दुल्हन चाही पाकिस्तान से 2 पर ख़ास बातचीत Arun Bakshi से


दुल्हन चाही पाकिस्तान से 2 पर ख़ास बातचीत Arun Bakshi से
दुल्हन चाही पाकिस्तान से 2 पर ख़ास बातचीत Arun Bakshi से
(Last Updated On: अक्टूबर 24, 2018)

दुल्हन चाही पाकिस्तान से 2 पर ख़ास बातचीत Arun Bakshi से

 

बॉलीवुड फिल्मों में १०० से ज्यादा किरदार निभाने वाले अरुण बक्शी ने प्रदीप पांडेय चिंटू की आनेवाली भोजपुरी फिल्म “दुल्हन चाही पाकिस्तान से २” पर खुलकर अपनी राय रखि,आइये जानते है क्या कुछ बताया बॉलीवुड फिल्मों के बाद भोजपुरी फिल्मों में कदम रखने वाले चरित्र अभिनेता “अरुण बक्शी” ने “प्रदीप पांडेय चिंटू” और “सुरभि शुक्ला” अभिनीत आनेवाली फिल्म “दुल्हन चाही पाकिस्तान से २” के बारे में-

प्रश्न- दर्शको को ये फिल्म क्यों देखनी चाहिए आखिर क्या ख़ास है “दुल्हन चाही पाकिस्तान से २”में ?

अरुण बक्शी- आप हमारी फिल्म को इसलिए देखिये क्योंकि पहला बहुत ही खूबसूरत फिल्म बनीं है,दूसरा इसकी सोच बहुत अच्छी है,तीसरा इसकी कहानी बहुत अच्छी है चौथा इसकी परफॉरमेंस बहुत अच्छी है ।

प्रश्न- “दुल्हन चाही पाकिस्तान से २” फिल्म के किरदारों के बारे में बताइये ?

अरुण बक्शी- इस फिल्म प्रत्येक कलाकार ने काम बहुत ही अच्छा किया है,उसके अलावा फिल्म के अभिनेता प्रदीप पांडेय “चिंटू” साहब में कुछ ख़ास ऐसी बातें हैं जो ऊपर वाले ने उनको नवाजा है जो सिर्फ उनमे है तो आपको उनके अभिनय को देखना चाहिए ।

इस फिल्म में मेरी बेटी का किरदार “सुरभि शुक्ला” ने निभाया है। इन्होने बहुत ही अच्छा किरदार को निभाया है, हालाँकि सुरभि ने अभी इस फिल्म से ही भोजपुरी फिल्म जगत में पदार्पण किया है फिर भी इस फिल्म में अपनी छाप छोड़ने में वो कामयाब रही हैं ।

प्रश्न- “दुल्हन चाही पाकिस्तान से २” फिल्म के डायरेक्टर राजकुमार आर पांडेय के बारे में आपकी क्या राय है?

अरुण बक्शी- फिल्म का डायरेक्शन लाजवाब हैं मैं इतना ही कह सकता हु कि,फ़िल्में तो बनती रही है और आगे भी बनती रहेंगी, लेकिन हर डायरेक्टर की अपनी टाइमिंग होती है जिसमे मेरे मित्र और फिल्म के डायरेक्टर “राजकुमार पांडेय” का कोई जवाब नहीं मैंने काफी डायरेक्टर के साथ काम किया है लेकिन जो बात राजकुमार के डायरेक्शन में है वो इस फिल्म में चार चाँद लगा देंगी ।

 


भोजपुरी मैजिक, भोजपुरी भाषा से संबंधित सभी प्रकार की रचनाओ, कृतियों, और भोजपुरी मनोरंजन को एक जगह संकलित करने के उद्देश्य से आरम्भ की गई एक परियोजना है। भोजपुरी भाषा के प्रसार, सम्मान, और स्वीकार्यता के लिए हम निरंतर प्रयासरत है |

Comments

comments